naam diksha ad

देवास : कैदियों ने माना नही होते जैल में अगर पहले मिल जाता ये ‘संत’

Share this Article:-
Rate This post❤️

• कैदियों पर संत रामपाल जी महाराज ने की तत्वज्ञान की बौछार


16 मई 2017
देवास | आम समाज को ही नही जेल में बंद कैदियों को भी संत रामपाल जी महाराज का ज्ञान बहुत ही ज्यादा प्रभावित कर रहा है, लोगों की जीवनशैली में तेज़ी से होते सुधार को देख कर हर तरफ संत जी की चर्चा हो रही है।

सुनकर आश्चर्य होता है परंतु यह सत्य है जो संत भ्रष्टाचार का खात्मा करने के लिए, सामाजिक कुरीतियों का उन्मूलन करने के लिए, समाज सुधार के संपूर्ण आंदोलन का उद्घोष करते हुए जेल तक पहुंच चुका ,परंतु उस संत के तत्व ज्ञान को कोई भी नहीं रोक पा रहा है, बात हो रही है विश्व की नजरों में विवादित परंतु व्यवहार से वेदों के संपूर्ण ज्ञाता जगतगुरु तत्वदर्शी संत रामपाल जी महाराज की, देश में मुरैना जिला (मध्य प्रदेश) की जेलों से सत्संग प्रारंभ होकर नेपाल  , हरदा, सागर, देवास आदि जिला जेलों में सत्संग हो कर आज थमने का नाम नहीं ले रहा है।

आज पुनः मध्य प्रदेश के जिला देवास की तहसील बागली में यहां पर जगतगुरु तत्वदर्शी संत रामपाल जी महाराज के शिष्यों ने देवास जिला उप जिला जेल में बंद कैदियों को संत जी का शास्त्रों द्वारा प्रमाणित सद्ज्ञान LED के जरिए सुनाया गया एवं उनको सभी धर्म शास्त्रों से प्रमाणित “ज्ञान गंगा” एवं “गीता तेरा ज्ञान अमृत पुस्तक” का निशुल्क वितरण किया गया एवं उनसे अनुग्रह किया कि वह इस पुस्तक को पढ़े और अध्यात्म के सच्चे मार्ग पर लग कर अपने जीवन को सफल बनाएं क्योंकि अगर आपको यह ज्ञान पूर्व  में मिला होता तो आप इस प्रकार सजा नहीं काट रहे होते क्योंकि आपके अंदर मानवता का विकास हो चुका होता।

 ऐसा निर्मल सत्संग सुन कर जेल में बंद कैदियों ने संत रामपाल जी महाराज के जयकारे लगाए और उनके द्वारा दिए ज्ञान की भूरि-भूरि प्रशंसा कर गीता तेरा ज्ञान अमृत एवं ज्ञान गंगा पुस्तक को पढ़ने का संकल्प लिया और उनसे नाम दीक्षा अर्थात उपदेश लेने की इच्छा जाहिर की।

•Facebook पर Like करें :-

• Follow On Twitter

Follow @lordkabir

• Subscribe On Youtube

LORD KABIR

 


Share this Article:-
Banti Kumar
Banti Kumar

📽️Video 📷Photo Editor | ✍️Blogger | ▶️Youtuber | 💡Creator | 🖌️Animator | 🎨Logo Designer | Proud Indian

Articles: 371

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

naam diksha ad
Trustpilot