सावधान दुनिया वालो

Share this Article:-

🔴🔴 सावधान दुनिया वालो 🔴🔴

     🔥 अब फिर से होगी महाभारत 🔥

       💥 दुनिया मे होगा महाविनाश 💥

जानिये भविष्यवक्ताओं की भविष्यवाणीयाँ

भारत मे पैदा हो चुका है दुनिया का मुक्ति दाता |

अब सभी संत, पंथ, धर्म, पाखंड होगा समाप्त ।
 ================

धर्मयुद्ध बनेगा विश्वयुद्ध,
काल करेगा पृथ्वी को ग्रास।
50%भारत व 75%दुनिया की
जनसंख्या होगी विनाश।

पुण्यात्मा बचेगी कलयुग में
सतयुग का होगा वास।
धरती पर परमेश्वर कबीर हैं
आये बनकर “रामपाल दास”

 **********************
***********************

जिसका सबको इंतजार था वो दुनिया को काल के बंधन से छुड़ाने वाला बंदीछोंड़, दुनिया को काल से मुक्त कराने वाला मुक्तिदाता भारत की धरती पर आ चुका है। मित्रो ये दांत निकाल कर हँसने की बात नही है सोच समझकर निर्णय लेने का समय आ गया है वरना जब मौत आती है तो सांस लेने का भी समय नही देती। यम के दूतो को देख टट्टी पेशाब निकल जाता है। आज ये दास आपको भविष्यवक्ताओं की भविष्यवाणी के आधार पर आगे क्या होने वाला है ? उससे बचने का क्या उपाय है ? ये सब बताने जा रहा है।

मालिक की दया से हम सब पर ये रहम हो रहा है ताकि हम सावधान होकर पूर्ण परमात्मा को पहचान कर उसकी शरण मे आ जाये। पू्र्णपरमात्मा हमे काल के मुंह मे जाने से बचा सकता है वो परमात्मा तीसरे विश्व युद्ध में आपको ऐसे बचा लेगा जैसे समुद्र मे नौका जल के उपर रहती है डूबती नही।

जैसे राष्ट्रपति फांसी की सज़ा को माफ कर सकता है कोई मंत्री व डी.सी. नही कर सकता। ठीक उसी तरह पूर्ण परमेश्वर मौत को cancel कर सकता है कोई अन्य राम, कृष्ण, दुर्गा, देवी-देवता, ईशा व मुशा नही सकते। दुनिया वालो ये वो समय आ गया है जिसको कबीर परमात्मा ने select किया था। अब कबीर परमेश्वर और काल (ब्रह्मा, विष्णु, शिव के पिता) की आर-पार की टक्कर होगी। काल ने कबीर परमेश्वर से वचन मे तीन युग (सतयुग, त्रेता, द्वापर) मांगे थे कलयुग की बिचली पीढ़ी का समय कबीर परमेश्वर ने लिया था। सतयुग त्रेता द्वापर तीन युगों से काल ने आतंक फैला रखा है। पाखंड पूजा फैला रखी है। अशान्ति फैला रखी है। अब कलयुगकी बिचली पीढ़ी का समय आ चुका है इन सब को कबीर परमात्मा उखाड़ फेकेंगे। अब भक्ति युग शुरू हो चुका है। कुछ सालों के बाद पूरा विश्व एक होकर एक परमात्मा की भक्ति करेगा। ये सब कुछ मै एक पोस्ट मे विस्तार से नही बता सकता|

Plz visit-
www.jagatgururampalji.org
www.bantikumar.page.tl

ब्रह्मा विष्णु शिव के पिता काल नही चाहता कि इस धरती पर कोई पूर्ण परमात्मा की भक्ति करे। लेकिन अब काल ब्रह्म रोक नही सकता पूर्णब्रह्म कबीर परमेश्वर को पूरी पृथ्वी पर अपना ज्ञान फैलाने से। इसलिए काल तीसरा विश्व युद्ध करवा कर दुनिया को समाप्त करने जा रहा है। पूर्ण परमात्मा कबीर साहेब की शरण मे भागकर चले जाओ। क्योंकि काल और परमात्मा का समझौता हुआ था काल ने कबीर परमेश्वर से कहा था जो तेरी भक्ति करेगा उसके पास मै नही जाऊंगा। जो मेरी भक्ति करे वो मेरा होगा तुम मत छेडना। तुम अपना ज्ञान देना अपना बना लेना। जो तुम्हारे ज्ञान को समझ कर तुम्हारी भक्ति करे वो तुम्हारे वरना सभी मेरे होगे। काल ने वचन मांगा था कि हे परमेश्वर जोर जबरदस्ती ना करना। शक्ति दिखा कर नहीं ज्ञान से अपना बनाना। कबीर परमेश्वर ने वर दे दिया था। जो काल की भक्ति कर रहा है या कर नहीं रहा है वो सब काल की सीमा मे खडे है। उनकी जान काल के हाथ में है। अब काल विनाश करेगा लेकिन परमात्मा अच्छी आत्माओं को ऐसे बचा लेंगे जैसे किसान खेती को बचा लेता है क्योंकि फसल (पूण्यात्माओ) की कीमत होती है घास फूंस झाड़ियो कि कीमत नही होती उनको उखाड़ फेकना ही अच्छा होता है क्योंकि वे फसल को भी हानि करती है ठीक इसी तरह नीच और अधर्मी लोगो को परमात्मा नही बचाता। ऐसे लोग दूसरों को भी हानि पहुंचाते है। काल ऐसे लोगों को उखाड फैकेगा। ऐसे लोगों की जनसंख्या 75% से ऊपर हो चुकी है। जितने भी लोग बचेंगे वो सभी एक परमात्मा की भक्ति करेगे।

कबीर सागर –
पॉच सहस अरु पॉच सौ जब बित जाये
महापुरुष फरमान तब जग तारन को आये

वह महापुरुष खुद कबीर परमेश्वर “रामपाल जी महाराज” के रूप मे धरती पर आ चुके है वे हम सब की जान काल से तीसरे विश्व युद्ध से बचा सकते हैं ये बात मै नही कहता बल्कि सभी सदग्रंथ वेद, गीता, बाईबल, कुरान, गुरूग्रंथ और सभी भविष्यवक्ता कह रहे है।

=== भविष्यवाणीयां===

इस “सच VS झूठ” नामक पेज की इस पोष्ट मे 3 फोटो है तीनों फोटो मे आपको सभी भविष्यवक्ताओं की भविष्यवाणियां पढ़ने को मिलेगी। सच जानने के लिए आप सभी भविष्यवाणीयॉ पढ़े। मै सभी भविष्यवाणीयॉ यहा नही लिख सकता पोष्ट बहुत बड़ी हो जायेगी। इस लिए कुछ एक की लिख रहा हूँ।

1 श्री मती अंजली गार्डगील आध्यात्मिक विज्ञान रिसर्च फाउण्डेशन (SSRF) के अत्यधिक सक्रिय दिव्य दृष्टि के माध्यम से यूनिवर्सल मन और बुद्धि से प्राप्त किया गया है। इसकी सटीकता परम पावन अठावले द्वारा जांच की गई है। भविष्यवाणी में लिखा गया है कि यह बदलाव का समय है। (कलयुग मे सतयुग जैसा माहौल) इसको बदलने का नेतृत्व एक महान गुरु द्वारा 1993 से किया जा रहा है। 1993 से ही काल के द्वारा ज्ञान को दबाने की कोशिश की जा रही है। इसमे बताया गया है कि 2013-2014 के बीच आध्यात्मिक अभ्यास करने वालों को रोकने की कोशिश की जायेगी। तीसरा विश्व युद्ध होगा जिसमें 75% दूसरे देशों की और 50%भारत की जनसंख्या मारी जायेगी। इसको एक महान संत हस्तक्षेप करके रोक सकता है। घटनाओं के समय को कम कर सकता है। मगर वह तभी करेगा जब उसके भगत प्रार्थना करेंगे। वह महान संत सम्पूर्ण मानव जाति को बदलने मे सक्षम है। इस लेख मे कहा गया है कि 2023 में मिनी सतयुग शुरू हो जाएगा। जिसे देवी किंगडम के नाम से जाना जायेगा। यह सतयुग पृथ्वी पर 1000 वर्ष तक चलेगा। एक हजार वर्ष तक पृथ्वी पर शान्ति बनी रहेगी। पूरा विश्व भक्ति करेगा। फिल्म नाच गाने बंद हो जायेंगे। तिसरे विश्व युद्ध मे भारत को हानि धर्म युद्ध ही तीसरे विश्व युद्ध के रूप मे लड़ा जायेगा। आदि काल से विश्व आध्यत्म केंद्र रहा है। आध्यात्मिक शोध से ज्ञात हुआ है। यह धर्म युद्ध जो शुरू हो रहा है इसमें भारत की केन्द्रीय भूमिका रहेगी। युद्ध के तीव्र होने पर अनिष्ट शक्ति (काल) पड़ोसी देशो को भारत पर हमला करने के लिए उकसायेगी। जिसमें भारत की 50% जनसंख्या मारी जायेगी। तीसरे विश्व युद्ध के चरण 2015- प्रारंभ।

2016-2018 = दुर्जन शक्ति (काल) के प्रभाव से अधर्मी लोगों की विजय होगी। (मतलब कलयुग सतयुग के पैर टिकने नहीं देगा, धर्मी लोग कम होंगे अधर्मी ज्यादा होंगे। परमात्मा के भगत कम होगे। काल के पुजारी ज्यादा होंगे)

2019-2021 = धर्म और अधर्म शक्तियों का बल बराबर होगा। (मतलब धर्मी और अधर्मी लोग बराबर होगे कलयुग सतयुग बराबर टक्कर पर होंगे परमात्मा और काल के पुजारी बराबर होंगे।)

2022-2023 = अच्छी शक्तियों के नेतृत्व मे धर्म पक्ष की विजय होगी। (मतलब धार्मिक लोगों की संख्या ज्यादा होगी। सतयुग कलयुग पर विजय प्राप्त कर लेगा।)

2023 – ईश्वरीय राज्य की स्थापना होगी। (मतलब परमात्मा काल को पृथ्वी से उठा कर बाहर फेंक देंगे। पूरी पृथ्वी पर परमात्मा कबीर परमेश्वर की पूजा होगी काल की कोई पूजा नही करेगा। कलयुग मे सतयुग का वास होगा।

==================

विस्तार से-

2015 – बाढ़ और ज्वालामुखी से प्रलय होगी। ( हाल ही मे चेन्नई मे देख लो इतनी बारिश हुई बाढ आ गई सौ साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया)

2016 – पाकिस्तान मे भंयकर भूकंप आयेगा।

2017 – मध्यवर्ती देशों मे बम धमाकों से विनाश होगा।

2018 – अमेरिका, चीन, जापान द्वारा युद्ध का आमना-सामना, असंख्य लोगों जन हानि।

2019 – लोगों का अपनी रक्षा हेतु संतो के पास दौड़ना।

2020 – ईश्वरीय चैतन्य के कणों की प्रधानता (मतलब धार्मिकता वाले लोगो की संख्या बढ़ती चली जायेगी |

अमेरिका की फ्लोरेंस की भविष्यवाणी
=====================

जब मैं ध्यान लगाती हूँ तो अक्सर एक संत को देखती हूँ। गोरे वर्ण के है उन संत के ललाट पर आकाश से नक्षत्र के प्रकाश की किरणें निरंतर बरसती रहती है। वह संत अपनी कल्याणकारी विचारधारा और सत चरित्र से तथा अनुयायी की शक्ति से सम्पूर्ण विश्व मे ज्ञान फैला रहे है। उनमें इतनी शक्ति है कि वह प्राकृतिक परिवर्तन भी कर सकते है। लेकिन वह अपना कार्य वैज्ञानिक ढंग से करेंगे। विश्व के समस्त जन समूह मे नई चेतना का संचार होगा। उनका ज्ञान सत्ताधारियों पर अकुंश लगा देगा। मुझे अपनी छठी अतींद्रिय शक्ति से यह एहसास हो रहा है। वह संत भारत के उत्तरी क्षेत्र में जन्म ले चुका है। वह समस्त संसार को ऐसी दैवीय शक्ति की जानकारी देगा जो हम सभी के लिए अब तक एक रहस्य बनी हुई है। उस दिव्य महापुरुष द्वारा वह प्रकाश पूरे विश्व मे फैलेगा। चारों तरफ़ आध्यात्मिक वातावरण होगा । उस संत की विचारधारा से पूरा विश्व प्रभावित होगा। उनके चरण चिन्हों पर चलेगा। पश्चिमी देशों के लोग उन्हें ईशा, मुसलमान उन्हें सच्चा रहनुमा एशिया के लोग उन्हें भगवान का अवतार मानेंगे। उस संत के कारण ही तिसरा विश्व युद्ध बंद होगा।

फ्रांस के नास्त्रेदमस की भविष्यवाणी ======================

ये भविष्यवाणी 450 साल पहले की गई थी। ठहरो राम राज्य आ रहा है। एक उधेड़ उम्र का अजोड़ महासत्ता अधिकारी भारत ही नही पूरे विश्व मे स्वर्ण युग लायेगा। भारत को सर्वश्रेष्ठ हिन्दू राष्ट्र बनायेगा। उसके नेतृत्व मे भारत विश्व गुरु बनेगा। वह उस देश मे पैदा होगा उसके तीन तरफ समुद्र होगा। उस देश का नाम हिन्द महासागर के नाम पर होगा (हिन्दुस्तान)। वह उस राज्य मे होगा जिसमें से पांच नदियां गुजरती है (पंजाब, १९६६ से पहले हरियाणा भी पंजाब ही था) वह great cyren महापुरुष उस देश के उत्तरी क्षेत्र के किसी छोटे से गाँव मे जन्म लेगा|

(नोट- महामुर्ख लोग बोल रहे है वो महापुरुष मोदी है। मोदी तो दक्षिणी भारत का रहने वाला है। नास्त्रेदमस ने पंजाब उत्तरी भारत का नाम लिया है मोदी तो गुजरात का है।)

भारत मे पैदा होगा दुनिया का मुक्ति दाता :-

2001 से 2034 तक भारत का नेतृत्व एक ऐसा महापुरुष करेगा जिससे शुरू मे लोग नफरत करेंगे मगर बाद में बहुत प्यार करेंगे। उस शायरन पर हमला होगा जिसमे छह लोग मारे जायेंगे। वह जेल जायेगा उस महापुरुष पर देशद्रोह का आरोप लगेगा।

नोट- परमेश्वर की प्यारी आत्माओं वह महापुरुष सतगुरु रामपाल जी महाराज है। अब सभी संत, पंथ, धर्म समाप्त होंगे |

कबीर-
जब आयेगा बीसवें बीसा (2020),
ना रहेगा ईसा ना रहेगा मूसा
राज करेगा जगदीशा |||

2020 तक अब ये ईसा (ईसाई), मूसा (मूसलमान) आपस मे लडकर मरेंगे। ये दोनो बाबा आदम की संतान हैं बाबा आदम मे आगे ईसा हुए जिनसे काल ने ईसाई धर्म चलवाया। आदम से ही आगे मूसा हुए आगे चलकर हजरत मुहम्मद हुए जिनसे काल ने मुसलमान धर्म चलवाया। ईसाई और मुसलमान दो धर्मों के लोग सबसे ज्यादा है ये कट्टरवादी धर्म है किसी की मानते नहीं अपने धर्म को श्रेष्ठ समझते है। ये दोनों धर्मों के लोग आपस मे लडे़ंगे। ईसाई और मुस्लिम देश आपस मे लडेगे। सभी देश लडे़ंगे सभी धर्मों के लोगों की हानि होगी। तीसरे विश्व युद्ध के समय एक धर्म को हानि नहीं होगी। इस धर्म के लोगों की संख्या बढ़ती चली जाएगी। जब काल विनाश करेगा सभी धर्मों के लोगों इस परमेश्वर पंथ रूपी धर्म मे ऐसे मिलेंगे जैसे चारों तरफ से दौड़ती नदियाँ समुद्र मे जाकर मिल जाती है। तीसरे विश्व युद्ध के बाद यह धर्म महाशक्ति के रुप मे उभर कर सामने आयेगा। जिसके सामने सभी धर्म बौने नजर आयेगा।

कबीर –
जीव हमारी जाती है, मानव धर्म हमारा।
हिन्दू मुस्लिम सिख ईसाई, धर्म नही कोई न्यारा।

वो धर्म होगा मानव धर्म। यह धर्म जगतगुरू तत्वदर्शी संत रामपाल जी महाराज द्वारा चलाया गया होगा। इस पर कबीर परमेश्वर की विशेष कृपा होगी। इन्द्र ने जब मथुरा मे विनाश किया था वहाँ कृष्ण जी ने बचा लिया था। लेकिन अब ब्रह्मा विष्णु शिव के पिता काल ब्रह्म महाविनाश करेगा तो कृष्ण नही बचा सकता वहाँ तो कबीर परमेश्वर पूर्णब्रह्म ही बचायेंगे।

LORD KABIR
Share this Article:-
Default image
Banti Kumar
📽️Video 📷Photo Editor | ✍️Blogger | ▶️Youtuber | 💡Creator | 🖌️Animator | 🎨Logo Designer | Proud Indian
Articles: 360

Leave a Reply