राजधानी भोपाल में हुआ विशाल सत्संग समारोह, श्रद्धालुओं की संख्या रही 10,000 के पार

Share this Article:-
Rate This post❤️

राजधानी भोपाल में हुआ विशाल सत्संग समारोह, श्रद्धालुओं की संख्या रही 10,000 के पार

भोपाल | ज्ञान से ही पहचान होती हे संत-असंत की……
जो आज सिद्ध कर दिया हे मप्र की राजधानी भोपाल में संत रामपाल जी महाराज जी की अमृतमयी वाणी ने।



आज मप्र की राजधानी भोपाल में सदगुरु रामपाल जी महाराज जी का सत्संग प्रोजेक्टर के माध्यम से चलाया गया जिसमे संत रामपाल जी महाराज जी के शिष्यो के साथ-साथ जगत के लोगो ने भी संत जी की अमृतवाणी का श्रवण किया जिसका यह असर हुआ की आज ही सत्संग सुनने के बाद सत्संग स्थल पर ही उपलब्ध नामदीक्षा केंद्र से 17 नयी पूण्य आत्माओ ने अनमोल तत्वज्ञान को सुनकर संत रामपाल जी महाराज जी से नामदीक्षा लेकर अपने मानव जीवन को भगतिमार्ग पर लगाया हे । 
जहाँ एक तरह तो भारत देश के हरियाणा में संत रामपाल जी महाराज जी का विरोध किया जा रहा हे ख़ास बात यह हे की संत जी भी हरियाणा के ही गाँव धनाना जिला सोनीपत के हे।
परन्तु दुर्भाग्य हे हरियाणा की जनता का की जो संत विश्व के कोने कोने में अपने ज्ञान का डंका बजा रहे हे उन्ही संत जी को वहाँ की भ्रष्ठ सरकार ने झूठे मुकदमो में लगभग 27 माह से जेल में बन्द कर रखा हे।
खेर कोई बात नही कबीर साहेब जी कहते हे की

naam diksha ad

“कबीरा,तेरी झोपडी गल कटीयन के पास ।
जो करेगा सो भरेगा तू क्यों भया उदास।।”


इस शुभ अवसर पर ख़ास बात यह रही की इस सत्संग समारोह में हमारे मप्र के स्टेट कॉर्डिनेटर भगत विष्णु दास जी ने भी उपस्थित होकर परम संत रामपाल जी महाराज जी के विशेष आदेशो एवं संदेशो से सर्व संगत को अवगत कराया।

साथ ही संत जी के ज्ञान को विश्व स्तर पर प्रसार-प्रचार करने हेतु सोशल मीडिया में भी ख़ासा समर्थन मिल रहा हे जिसके चलते इस मोके पर मप्र स्टेट मीडिया प्रभारी भगत हेमंत दास भी उपस्थित रहे एवं सभी उपस्थित संगत को फेसबुक,ट्वीटर,व्हाट्सएप्प की जानकारी दी गयी।

एवं भोपाल संभाग में आयोजित इस सत्संग समारोह के आयोजक भगत रामनिवास दास जी जो की भोपाल संभाग के संभागीय कॉर्डिनेटर होने के साथ-साथ मप्र स्टेट फ्री SMS पुस्तक सेवा कॉर्डिनेटर भी हे और उन्होंने भी संगत को जगत के लोगो तक फ्री में SMS के माध्यम से प्राप्त सन्देश के आधार पर पुस्तक की तुरंत सेवा करने हेतु कुछ मुख्य बिन्दुओ पर संगत एवं सेवादारो का ध्यान आकर्षित करवाया एवं पुस्तक सेवादारो से जल्द से जल्द पुस्तक सेवा करने हेतु आग्रह किया।

 विडियोज देखने के लिये आप हमारे Youtube चैनल को सब्सक्राइव करें ।

LORD KABIR

 


Share this Article:-
Banti Kumar
Banti Kumar

📽️Video 📷Photo Editor | ✍️Blogger | ▶️Youtuber | 💡Creator | 🖌️Animator | 🎨Logo Designer | Proud Indian

Articles: 371

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

naam diksha ad