सर्व जन साधारण को जगतगुरू तत्वदर्शी संत रामपाल जी महाराज का विनम्र आह्वान

Share this Article:-
Rate This post❤️

सर्व जन साधारण को जगतगुरू तत्वदर्शी संत रामपाल जी महाराज का विनम्र आह्वान 



“मैने सच को ऊपर लाने के लिए सारे संसार से नफरत मोल ले ली। लेकिन मैने कसम खाई है कि दुनिया के जन-जन तक सच्चाई को पहूॅचाकर ही छोड़ूँगा। एक बार इस ज्ञान को दुनिया तक पहूॅचाने दो, बाद में मुझे चाहे फाॅसी तुड़वा देना। मुझे कोई शौक नही लोगों से भुण्डा और गुण्डा कहलवाने का बच्चों तुम्हारे लिए मैने अपना झोपड़ा भी फूॅक दिया है। ये तो मैं और बना लूँगा, पर तुम्हें इस नरक से निकालने वाला दुबारा नही मिलेगा।

 तुम चौरासी की चक्की में अगर एक बार चले गए, तो फिर कर गए मानव जीवन को गुड़-गोबर।” इसलिए बच्चों समय रहते समझो इस अनमोल ज्ञान को। 

कबीर साहेब ने कहा है कि…

नौ-मन सूॅत उलझिया, ये ऋषि रहे झखमार।सतगुरू ऐसा सुलझा दे, उलझे न दूजी बार।।


वर्तमान के सभी अज्ञानी संतों ने मोक्ष मार्ग व तत्वज्ञान इतना उलझा दिया है कि भगत समाज इसका, सही निर्णय नही कर पा रहा है। इसीलिए मैने सबकी दुश्मनी मोल लेतेहूए अपना सर्वस्व दाॅव पर लगाकर परमात्मा के इस महादुर्लभ मोक्ष मार्ग/तत्वज्ञान को प्रमाणों के साथ आपके रूबरू करने का अथक प्रयत्न किया हूँ और अंतिमस्वाॅस तक करता ही रहूँगा।तो ऐ मेरे प्यारे बच्चों/परमेश्वर के चाहने वालों इस जीवन की भागमभाग से अपने आत्म कल्याण के लिए भी थोड़ा समय निकालो और अपनी शिक्षा का सच्चा सदुपयोग करो।
 उसके लिए परमात्मा द्वारा आपके लिए बनाए इन माध्यमों पर जागरुक बनो, 

जो निम्न है…
साधना-चैनल पर प्रतिदिन सायं 07:40 से 08:40 तक।
खबर Fast News पर प्रतिदिन रात्रि 09:30 से 10:30 तक।
STV HARYANA News पर प्रतिदिन सुबह 06:00 से 07:00 बजे तक।

सत्संग श्रवण करें व बिना पक्षपात के निर्णय करें। एवं पढ़िए पुस्तक ज्ञान गंगा- 
इस ज्ञान गंगा पुस्तक को निःशुल्क प्राप्त करने हेतु अपना नाम व पूरा पतानिम्न नं. पर SMS करें…sms to- 7027000825, 7027000826, 7027000827

सबका शुभचिंतक
संत रामपाल जी महाराज

विडियोज देखने के लिये आप हमारे Youtube चैनल को सब्सक्राइव करें ।

https://goo.gl/Q5dTsN

LORD KABIR

 


Share this Article:-
Default image
Banti Kumar

📽️Video 📷Photo Editor | ✍️Blogger | ▶️Youtuber | 💡Creator | 🖌️Animator | 🎨Logo Designer | Proud Indian

Articles: 370

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *