Radha Soami Satsang Beas (RSSB) EXPOSED | RSSB EXPOSED | RSSB HISTORY | RSSB ANALYSIS

 WHY IS RADHA SOAMI NOT THE RIGHT FAITH – AN ANALYSIS All the statements made on this website are a result of comprehensive research work. The statements are based upon facts and are backed up by evidence from Radha Soami literature and books. This may sometimes feel harsh especially to a follower but the intention is only to draw the attention of the reader to the truth. The content has been published in good faith and is only a critique and analysis of the knowledge prevalent in the Radha Soami faith. WHERE DOES THE RADHA SOAMI FAITH GO WRONG? HAZOOR…
Read Full Article

असुरनिकन्दन रमैनी लिखित में Full HD 1080p | Download link Available in Description

असुरनिकन्दन रमैनी नए तरीके से एनीमेशन में बनाई गई है । आप सभी जरूर देखे और शेयर करें । वीडियो फुल HD 1080p में है । Download link वीडियो के Description में मौजूद है । वीडियो को लाइक करें और कमेंट बॉक्स में वीडियो के बारे में जरूर बताएं । वीडियो को ज्यादा से ज्यादा शेयर जरूर करें । हमारे यूट्यूब चै…
Read Full Article

दयानंदभाष्य खंडनम् – दयानन्द की मुर्खता की पोल-खोल (भाग-05)

दयानंदभाष्य खंडनम् (महाधुर्त दयानंद) जब लाखों करोड़ों धुर्त मरते है तब कहीं जाकर एक महाधुर्त पैदा होता है ।भारत के इतिहास में आज तक इतना बड़ा धुर्त किसी ने नहीं देखा दयानंद ने मेक्समूलर के भाष्य को Copy कर जैसे तैसे हिन्दी मे अनुवाद तो कर दिया पर अपनी मूर्खता को छिपा न सके यजुर्वेद १६/१ में द…
Read Full Article

हिन्दुओं के विनाश का कारण | The cause of destruction of Hindus | BKPK VIDEO | Saint Rampal Ji | Lord Kabir Blog

हिन्दुओं के विनाश का कारण (हम अपने सभी धर्मगुरूओं से जानना चाहते हैं।)  Watch Video  हमारा हिन्दू धर्म के ज्ञानहीन धर्मगुरूओं, संत, आचार्यों, शंकराचार्यों, महर्षियों, मठाधीशों से निवेदन है कि हिन्दू धर्म के ठेकेदार बनकर हिन्दुओं को ही गलत अध्यात्म ज्ञान व मार्ग देकर इनके जीवन के साथ खिलव…
Read Full Article

शरण पड़े को सतगरू संभाले, जानकर बालक भोला रे ।

—— सेवा व दर्शनों का अर्थ —— एक बार गुरु जी का सत्संग प्रोग्राम था।गुरु जी सत्संग के बाद स्टेज पर बैठकर ही संगत को दर्शन देते थे,ताकि संगत को कोई भी परेशानी ना हो। उस दिन दर्शनों के बाद गुरु जी स्टेज पर ही विराजमान रहे।सारी संगत ने दर्शन कर लिए और सेवा भी डाल दी।फिर भी गुरु…
Read Full Article

जानिये वेदों में कविर् अर्थात् कबीर नाम का विवरण कैसे आया ? कविर्देव (कबीर परमेश्वर) तो सन् 1398 में उत्पन्न हुए हैं?

• वेदों में कविर् अर्थात् कबीर नाम का विवरण कैसे आया ? प्रश्न – वेदों में कविर् अर्थात् कबीर नाम का विवरण कैसे आया ? वेद तो सृष्टी के प्रारम्भ में प्राप्त हुए थे। कविर्देव (कबीर परमेश्वर) तो सन् 1398 में उत्पन्न हुए हैं? उत्तर – पूर्ण परमात्मा का वास्तविक नाम कविर्देव है…
Read Full Article

यहाँ दहेज के नाम पर नही दिया जाता 01 भी रूपया – सादगी से सम्पन्न होती हैं शादियाँ – यहा पर नही हैं तीन तलाक का भय

• बिना दान दहेज के होती हैं सादगीपूर्ण शादी 15 अप्रैल 2017          मुंडका, दिल्ली।  जैसा की आप सब जानते हैं हिंदुस्तान में जिस तरह से विवाह होते हैं जिस तरह से विवाह के लिए पैसे इकट्ठे किए जाते हैं जिस तरह से मां बाप अपनी बेटी का विवाह करने के लिए लाखों करोड़ों रुपए …
Read Full Article

दंग रह गई दुनिया जब देखा ऐसा अद्भुत शादी का नजारा

• दंग रह गई दुनिया जब देखा ऐसा अद्भुत शादी का नजारा-मध्यप्रदेश का सुप्रसिद्ध क्षेत्र पश्चिम निमाड़ 15 अप्रैल  2017 । जिसको वर्तमान में जिला खरगोन नाम से जाना जाता है जिसके गांव सिपटान मे रोशनी एवं नंदकिशॊर का विवाह इतनी सादगी से हुआ की जिसे देखकर समाज हतप्रभ रह गया । इस शादी की विशेष खासि…
Read Full Article

जानिये कौन थे संत गरीबदास और उनकी जीवनी के बारे में

• संत गरीबदास जी महाराज की जीवनी आदरणीय गरीबदास साहेब जी का आर्विभाव सन् 1717 में हुआ तथा साहेब कबीर जी के दर्शन दस वर्ष की आयु में सन् 1727 में नला नामक खेत में हुए तथा सत्लोक वास सन् 1778 में हुआ। आदरणीय गरीबदास साहेब जी को भी परमात्मा कबीर साहेब जी सशरीर जिंदा रूप में मिले। आदरणीय गरीबदास साहेब…
Read Full Article